Latest News
नूंह 04 जनवरी:- जिलाधीश मनीराम शर्मा ने आपराधिक प्रक्रिया संहिता 1971 की धारा 144 के तहत आदेश पारित कर जिले में गैर मुमकिन पहाड़ों में खुदाई के लिए विस्फोटक पदार्थ, जेसीबी, खोदक मशीन व ड्रिल मशीनों के प्रवेश व प्रयोग पर प्रतिबंध लगाया है।

नूंह 04 जनवरी:- जिलाधीश मनीराम शर्मा ने आपराधिक प्रक्रिया संहिता 1971 की धारा 144 के तहत आदेश पारित कर जिले में गैर मुमकिन पहाड़ों में खुदाई के लिए विस्फोटक पदार्थ, जेसीबी, खोदक मशीन व ड्रिल मशीनों के प्रवेश व प्रयोग पर प्रतिबंध लगाया है। जिलाधीश ने आदेशों में स्पष्ट किया है कि माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा अवैध खनन पर प्रतिबंध से संबंधित आदेश दिए हुए हैं। इन आदेशों की अनुपालना में जिला मेवात में खनन गतिविधियों पर आगामी दो माह के लिए पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। उन्होंने बताया कि सरकारी विकास से संबंधित कार्यों व जनहित के लिए जिले के संबंधित उप-मंडलाधीश से लिखित अनुमति प्राप्त करने के बाद ही यह मशीनें प्रयोग में लाई जाएं। जिलाधीश ने स्पष्ट किया कि इन आदेशों का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के खिलाफ भारतीय दंड प्रक्रिया के अनुसार कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

नूंह 04 जनवरी:- सर्वाेच्च न्यायालय के जिला में अवैध खनन रोकने संबंधी आदेशों की अनुपालना सुनिश्चित करने के लिए मेवात के जिलाधीश मनीराम शर्मा ने आदेश जारी करके आपराधिक प्रक्रिया संहिता, 1971 की धारा 144 के तहत जिले के पहाड़ी क्षेत्रों में गैरकानूनी अवैध खनन कार्यों पर सख्ती से प्रतिबंध लागू करने तथा जिले की सीमा में इस मकसद के लिए उपयोग विस्फोटक पदार्थों की प्राप्ति, भंडारण, बिक्री व निपटान पर आगामी दो माह के लिए तुरंत प्रभाव से प्रतिबंध लागू किया है। जिलाधीश मनीराम शर्मा ने जारी आदेशों में कहा है कि विस्फोटक पदार्थों के साथ अवैध खनन गतिविधि मानवीय जीवन, उनके स्वास्थ्य व सुरक्षा के लिए खतरा हैं। अत: इन पदार्थों की प्राप्ति, भंडारण, बिक्री व निपटान पर प्रतिबंध रहेगा। जिलाधीश ने ऐसे सभी अनुमति पत्रों को आगामी दो माह तक रद्द कर दिया है। इस अवधि के दौरान मेवात जिले की सीमा के भीतर कोई भी व्यक्ति पहाड़ी क्षेत्रों में अवैध खनन के मकसद से विस्फोटक पदार्थों की प्राप्ति, भंडारण, बिक्री व उसका निपटान नहीं कर पाएगा। जिलाधीश ने अपने आदेशों में सभी उपमंडल अधिकारी (नागरिक) व संबंधित क्षेत्र के डीएसपी रैंक के अधिकारियों को लाइसेंस होल्डर के सभी स्टॉक चेक करने व उसे सील करने के आदेश भी दिए।