Latest News
नूंह 18 नवंबर :- राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा के तहत गेंहू की फसल की पैदावार एवं क्षेत्र को बढ़ावा देेने के लिए ऑनलाईन रजिस्ट्रेशन |

नूंह 18 नवंबर :- उपमंडल कृषि अधिकारी डा. अजीत सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा के तहत गेंहू की फसल की पैदावार एवं क्षेत्र को बढ़ावा देेने के लिए ऑनलाईन 222.ड्डद्दह्म्द्बद्धड्डह्म्4ड्डठ्ठड्ड.द्बठ्ठ रजिस्ट्रेशन कर सकते है। उन्होंने बताया कि अनुदान सीधे किसानों के खाते में भेजा जाएगा। साथ ही बताया कि जिले के किसानों को दो हजार 537एकड़ जमीन की बिजाई कर लक्ष्य रखा गया है।

उपमंडल कृषि अधिकारी ने बताया कि एक एकड़ गेंहू के लिए तीन हजार रुपए का अनुदान प्रति एकड़ के हिसाब से दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि एक किसान को एक एकड़ की बिजाई पर लाभ दिया जा रहा है। साथ ही कहा कि जिला का जो भी किसान इस स्कीम का लाभ उठाना चाहाता है वो किसान सुविधा पोर्टल 222.ड्डद्दह्म्द्बद्धड्डह्म्4ड्डठ्ठड्ड.द्बठ्ठ पर अपना पंजीकरण करावकर अपने संबंधित कृषि विकास अधिकारी से संपर्क करे प्रार्थना-पत्र दे सकते है। उन्होंनें बताया कि किसान पंजीकरण के बाद खरीद किए गए बीज का बिल प्रार्थना-पत्र सहित अपने संबंधित कृषि विकास अधिकारी या खंड कृषि अधिकारी के पास जमा कराना होगा। योजना पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर लागू की जा रही है। अनुदान की राशि सीधे किसान खाते में जमा करा दी जाएगी। अपने प्रार्थना-पत्र के साथ बैंक खाते की फोटो प्रति देनी होगी। इसकी अंतिम तिथि 30 नंबवर 2016 रखी गई है। उन्होंने जिले के सभी किसानों से आह्वान किया है कि वे अधिक से अधिक इस योजना का लाभ उठा सकते है। उपमंडल कृषि अधिकारी नूंह ने किसानों से अपनी धान की फसल की कटाई के बाद पराली को किसी हालात में खेत में न जलाने को कहा। क्योंकि इससे जमीन की उर्वरा शक्ति से सहायक मित्र कीट जलकर मर जाते है और इसके दुष्परिणाम स्वरुप भूमि की उर्वरा शक्ति कमजोर हो जाती है। -----------------------