LATEST NEWS



जिला नूॅह में सौर ऊर्जा पम्पिंग सिस्टम लगवाने हेतू आवेदन पत्र प्राप्त करने की अंतिम तिथि 30 अक्टूबर। एडीसी

नूंह, 24 अक्तूबर:-नवीन एवं नवीकरणीय उर्जा मन्त्रालय भारत सरकार व नवीन एवं नवीकरणीय उर्जा विभाग हरियाणा द्वारा किसानों को वर्ष 2017-18 में 90 प्रतिशत अनुदान पर 2 होर्स पावर व 5 होर्स पावर के सौर ऊर्जा पम्पिंग सिस्टम उपलब्ध करवाने का निर्णय लिया गया है। भारत सरकार व हरियाणा सरकार का यह कदम हरित एवं स्वच्छ ऊर्जा की तरफ है। इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए अतिरिक्त उपायुक्त जयबीर सिंह आर्य ने बताया कि हरियाणा प्रदेश के लिए लगभग 2 हजार 300 किसानों को सौर ऊर्जा पम्पिंग सिस्टम अनुदान पर उपलब्ध करवाऐ जाऐंगे। नूंह के लिए 2 एच.पी. व 5 एच.पी. ( 2 $97 = 99) निर्धारित किए गए है। सौर ऊर्जा पम्प सैट लगवाने से किसान को डीजल पम्प सैट पर होने वाले डीजल के भारी भरकम खर्चे से निजात मिलेगी व डीजल पम्प सैट से होने वाले वायु व ध्वनी प्रदुषण से भी छुटकारा मिलेगा।

उन्होने बताया कि पिछले वर्ष 2016-17 में काफी किसानों द्वारा सौर ऊर्जा पम्प के लिए आवेदन कार्यालय में जमा करवाए हुए हैं। उन सभी आवेदन पत्रों को रद्ध कर दिया गया है। जो भी किसान सौर ऊर्जा पम्पिंग सिस्टम लगवाना चाहता है उन्हें अपना आवेदन पत्र जमा करवाना अनिवार्य होगा। पिछले 7 वर्षों में जिन किसानों ने इस स्कीम का लाभ लिया है वे इस योजना के तहत पात्र नहीं है। 2 होर्स पावर मोनोब्लाक पम्प सैट की कुल किमत लगभग एक लाख 85 हजार रुपए है व 2 होर्स पावर सबमर्सिबल पम्प सैट की कुल कीमत लगभग दो लाख 35 हजार रुपए है। 5 होर्स पावर सबमर्सिबल पम्प सैट की कुल किमत लगभग चार लाख 38 हजार रुपए है। किसान को कुल कीमत का केवल 10 प्रतिशत हिस्सा ही देना होगा तथा शेष 90 प्रतिशत राशि सबसिडी के तौर पर सरकार द्वारा दी जाएगी। 2 होर्स पावर मोनोब्लाक पम्प सैट लगभग 10 मीटर की गहराई से एक दिन में लगभग एक लाख 80 हजार लीटर पानी देता है। 2 होर्स पावर सबमर्सिबल पम्प सैट 30 मीटर की गहराई से एक दिन में लगभग 63 हजार लीटर पानी देता है व 5 होर्स पावर सबमर्सिबल पम्प सैट 50 मीटर की गहराई से एक दिन में लगभग 91 हजार 200 लीटर पानी देता है।

सौर ऊर्जा पम्पिंग सिस्टम में उन किसानों को प्राथमिकता दी जाऐगी जो किसान संरक्षित खेती, बागवानी व सुक्ष्म सिंचाई तकनीक के तहत तालाबों से पानी लेते हैं। यदि निर्धारित लक्ष्यों से अधिक आवेदन प्राप्त होते हैं तो ड्रा के तहत किसानों (लाभाथियों) का चयन किया जाऐगा। आवेदन पत्र स्वीकार करने की अंतिम तिथि 30 अक्टूबर निर्धारित है। अंतिम तिथि के बाद प्र्राप्त होने वाले आवेदन पत्रों पर कोई विचार नहीं किया जाऐगा। आवेदन पत्र जिला प्रशासन, नूंह की साईट से डाउनलोड किया जा सकता है व अतिरिक्त उपायुक्त कार्यालय, नूंह के कमरा नं. 225 से भी प्राप्त किया जा सकता हैं।